Janani Suraksha Yojana 2022: गर्भवती महिलाओं के खाते में आयेंगे हजारों रूपये, जाने पात्रता और सम्पूर्ण आवेदन प्रक्रिया

Janani Suraksha Yojana 2022: हमारे देश की गर्भवती महिलाओं और नवजात शिशुओ की स्थिति में सुधार करने के लिए हमारे देश की सरकार द्वारा कई योजनाएं शुरू की जाती है. आज हम आपको ऐसी ही योजना से संबंधित भारत सरकार द्वारा लागु की जाने वाली योजना के बारे में बतायेंगे. इस योजना का नाम जननी सुरक्षा योजना 2022 है. इस आर्टिकल के माध्यम से आपको इस योजना की पात्रता, विशेषता, लाभ, आवश्दयक दस्तावेज और आवेदन करने की संपूर्ण प्रक्रिया की जानकारी प्राप्त होगी.

Janani Suraksha Yojana 2022

हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा जननी सुरक्षा योजना 2022 की शुरुआत की गई. इस योजना के माध्यम से देश की गर्भवती महिलाओं को सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी. जननी सुरक्षा योजना 2022 के माध्यम से देश की गर्भवती महिला और नवजात शिशुओ की स्थिति में सुधार आएगा. इस योजना का लाभ गरीब रेखा से नीचे जीवन यापन कर रही महिलाओं को ही मिलेगा.

जो महिलाएं इस योजना का लाभ उठाना चाहती है, उन्हें आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर इस योजना के लिए आवेदन करना होगा. गर्भवती महिलाओ को इस योजना के अंतर्गत दो श्रेणियों में बांटा गया है. जिसके आधार पर उन्हें सरकार द्वारा वित्तीय सहायता राशि प्रदान की जाएगी यह श्रेणियां कुछ इस प्रकार है.-

ग्रामीण क्षेत्रों की गर्भवती महिलाएं

इस योजना के अंतर्गत वे सभी गर्भवती महिलाएं, जो गरीब रेखा से नीचे जीवन यापन कर रही है, उन्हें सरकार द्वारा ₹1400 की वित्तीय सहायता राशि प्रदान की जाएगी और इसके साथ ही आशा सहयोगी को प्रसव प्रोत्साहन के लिए ₹300 प्रदान किए जाएंगे और प्रसव के बाद सेवा प्रदान करने के लिए ₹300 दिए जाएंगे.

शहरी क्षेत्रों की गर्भवती महिलाएं

इस योजना के अंतर्गत सभी गर्भवती महिलाओं को सरकार द्वारा हजार रुपए की वित्तीय सहायता राशि प्रदान की जाएगी. इसके अलावा 200 रूपये की सहायता राशी आशा सहयोगी को प्रसव प्रोत्साहन के लिए प्रदान की जाएगी और प्रसव के बाद सेवा प्रदान करने के लिए ₹200 प्रदान किए जाएंगे.

Janani Suraksha Yojana 2022: रजिस्ट्रेशन

देश के इच्छुक लाभार्थी जो इस योजना के माध्यम से लाभ प्राप्त करना चाहते हैं, उन गर्भवती महिलाओं को इस योजना के तहत आवेदन करना होगा. सरकारी अस्पताल या माननीय प्राप्त निजी अस्पतालों में यदि गर्भवती महिलाएं प्रसव कराती है तो उन महिलाओं को जननी सुरक्षा योजना 2022 के अंतर्गत लाभ प्राप्त होगा. सरकार द्वारा दी जाने वाली धनराशि लाभार्थी के सीधे बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर दी जाएगी. इसके लिए गर्भवती महिला का बैंक अकाउंट होना अनिवार्य है और यह बैंक अकाउंट आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए.

Janani Suraksha Yojana 2022: उद्देश्य

जैसा कि आप सभी जानते हैं जो गर्भवती महिलाएं गरीब रेखा से नीचे जीवन यापन कर रही है. वह गर्भावस्था के समय अपनी स्वास्थ्य संबंधी जरूरतों को पूरा नहीं कर पाती है और ना ही वह आर्थिक जरूरतों को पूरा कर पाती है. ऐसी स्थिति में वे अपनी सेहत का ध्यान नहीं रख पाती है और ऐसी स्थिति में गर्भवती महिलाओं को अनेक बीमारियां घेर लेती है. ग्रामीण क्षेत्रों में अभी भी चिकित्सा सुविधा उपलब्ध नहीं है.

इन परेशानियों को देखते हुए केंद्र सरकार द्वारा जननी सुरक्षा योजना 2022 का शुभारंभ किया गया है. इस योजना के जरिए देश की गर्भवती महिलाओं को चिकित्सा सुविधा और वित्तीय सुविधा प्रदान की जाएगी. इस योजना के माध्यम से बच्चे की माताओं और बच्चों की मृत्यु दर में भी कमी आएगी. इस योजना के जरिए गरीब महिलाएं भी अस्पताल में सुरक्षित डिलीवरी करवा सकेगी, इससे उनका बच्चा सुरक्षित रहेगा.

Janani Suraksha Yojana 2022

Janani Suraksha Yojana 2022 – एक नजर

योजना का नाम Janani Suraksha Yojana 2022
साल 2022
के द्वारा पीएम नरेंद्र मोदी जी द्वारा
योजना को शुरू करने की तारीख 12 अप्रैल 2005
लाभ लेने वाले देश की गरीब परिवार की गर्भवती महिला
श्रेणी केंद्र एवं राज्य सरकारी योजना
उद्देश्य गर्भवती महिलाओ को निशुल्क प्रसव और वित्तीय सहायता देना
आवेदन प्रक्रिया ऑफलाइन मोड
सहयता राशि ग्रामीण क्षेत्र की गर्भवती महिला- 1400
शहरी क्षेत्र की गर्भवती महिला- 1000
आधिकारिक वेबसाइट nhm.gov.in

Janani Suraksha Yojana 2022: नकद सहायता

शहरी क्षेत्र

  • सरकार द्वारा लो परफॉर्मिंग स्टेट के लिए महिला को हजार रुपए एवं आशा को ₹200 की राशि प्रदान की जाएगी.
  • High-performing स्टेट के लिए महिला को ₹600 एवं आशा को ₹200 की सहायता राशि प्रदान की जाएगी.

ग्रामीण क्षेत्र

  • इस योजना के अंतर्गत लो परफॉर्मिंग स्टेट के लिए महिला को 1400 रुपए एवं आशा को ₹600 की राशि प्रदान की जाएगी.
  • हाई परफॉर्मिंग स्टेट के लिए महिला को ₹700 एवं आशा को ₹200 की सहायता राशि प्रदान की जाएगी.

Janani Suraksha Yojana 2022: कुछ महत्वपूर्ण जानकारी

  • Janani Suraksha Yojana 2022 को 12 अप्रैल 2005 में शुरू किया गया था.
  • देश के सभी राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों में सरकार द्वारा जननी सुरक्षा योजना का संचालन किया जाता है.
  • इस योजना के अंतर्गत खास तौर पर बिहार, झारखंड, मध्य प्रदेश, उत्तरांचल, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, उड़ीसा, राजस्थान एवं जम्मू कश्मीर को टारगेट किया जाएगा.
  • जननी सुरक्षा योजना 2022 का लाभ उठाने के लिए पंजीकृत लाभार्थी के पास एमसीएच कार्ड के साथ जननी सुरक्षा योजना कार्ड भी होना चाहिए.
  • लाभार्थी की सूची वितरण की तारीख पर अनिवार्य रूप से उप केंद्र सीएचसी, पीएचसी जिला अस्पताल में डिस्प्ले बोर्ड पर प्रदर्शित की जाएगी.
  • निधि का 4% हिस्सा एडमिनिस्ट्रेटिव एक्सपेंस के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है.
  • गर्भावस्था के समय बेहतर सेवाएं प्रदान करने के लिए प्रत्येक ब्लॉक में से कम से कम 2 इच्छुक निजी संस्थानों को मान्यता प्रदान की जाएगी.
  • इस योजना के अंतर्गत पति या पत्नी बच्चे के जन्म के बाद नसबंदी करवा लेते हैं तो इस स्थिति में उनको मुआवजा राशि प्रदान की जाएगी.
  • इस योजना के अंतर्गत घर में प्रसव होने की स्थिति में ₹5000 की सहायता राशि प्रदान की जाएगी यह राशि केवल 2 बच्चों के जन्म पर ही प्रदान की जाएगी. सरकार द्वारा इस राशि का वितरण डिलीवरी के समय या डिलीवरी के 7 दिन के भीतर किया जाएगा.
  • सिजेरियन सेक्शन के लिए इस योजना के माध्यम से प्रसूति की राशी प्रदान की जाएगी. इसके अलावा 1500 रुपए की सहायता राशि भी प्रदान की जाएगी.
  • गर्भवती महिला के साथ रहने वाली आशा को ₹600 की राशि प्रदान की जाएगी. इसके अलावा ₹200 की अधिकतम राशि भी प्रदान की जाएगी. सरकार द्वारा आशा को ₹250 की ट्रांसपोर्ट एसिस्टेंस भी प्रदान की जाएगी.

Janani Suraksha Yojana 2022: विशेषताएं

  • जननी सुरक्षा योजना 2022 सभी राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों में लागू की गई है, लेकिन निम्न प्रदर्शन करने वाले राज्यों जैसे राजस्थान, झारखंड, बिहार, उड़ीसा, एमपी, यूपी, जम्मू कश्मीर, छत्तीसगढ़ आदि राज्यों का विकास करना इस योजना का मुख्य लक्ष्य हैं.
  • इस योजना के अंतर्गत पंजीकृत प्रत्येक लाभार्थी के पास एमसीएच कार्ड के साथ-साथ जननी सुरक्षा कार्ड भी होना आवश्यक है.
  • यह योजना एक 100% केंद्र प्रायोजित योजना है और यह नकद सहायता को अधिकृत करता है.
  • जननी सुरक्षा योजना ने आशा को मान्यता प्राप्त कर सामाजिक स्वास्थ्य कार्यकर्ता के रूप में पहचान की है.
  • इस योजना के अंतर्गत जो गर्भवती महिला आंगनवाड़ी आशा के चिकित्सकों की सहायता से घर पर बच्चे को जन्म देती है, उन गर्भवती महिलाओं को ₹500 की सहायता राशि मिलेगी.
  • बच्चे की निशुल्क डिलीवरी के बाद 5 साल तक जच्चा बच्चा के टीकाकरण को लेकर उन्हें जानकारी भेजी जाती है और निशुल्क टीकाकरण भी किया जाता है.
  • इस योजना के तहत पंजीकरण कराने वाली सभी महिलाओं को कम से कम 2 प्रसव पूर्व जांच बिल्कुल मुफ्त में दी जाएगी. इसके अलावा आशा सहयोगी और आंगनवाड़ी कार्यकर्ता भी संबंधित सेवाओं के साथ डिलीवरी के बाद की अवधि में उनकी सहायता की जाएगी.

Read Also – 

Janani Suraksha Yojana 2022 की निगरानी

Janani Suraksha Yojana 2022 की निगरानी के लिए उप केंद्र स्तर पर मासिक बैठक की जाएगी और यह बैठक प्रत्येक माह आयोजित की जाएगी. यह बैठक हर महीने की तीसरे शुक्रवार को आयोजित की जाएगी, यदि किसी कारण शुक्रवार की छुट्टी होती है, तो बैठक अगले दिन आयोजित की जाएगी.

Janani Suraksha Yojana 2022: आशा एवं अन्य स्वास्थ्य सेवकों की भूमिका

  • लाभार्थियों का पंजीकरण एवं उनकी पहचान करवाना.
  • गर्भवती महिलाओं को सभी महत्वपूर्ण दस्तावेज प्राप्त करने में सहायता प्रदान करना.
  • गर्भवती महिलाओं को आखिरी तीन एएमसी चेकअप में सहायता प्रदान करना.
  • इस योजना के अंतर्गत गर्भवती महिलाओ को गवर्नमेंट हेल्थ सेंटर एवं एक्रेडिटेड प्राइवेट हेल्थ इंस्टिट्यूट की पहचान करना स्वास्थ्य सेवको की भूमिका हैं.
  • गर्कोभवती महिलाओ को इंस्टिट्यूशन डिलीवरी करवाने के लिए प्रोत्साहित करना.
  • बच्चे की 14 सप्ताह की आयु तक टीकाकरण की व्यवस्था करना.
  • बच्चे एवं मां के जन्म या मृत्यु की सूचना एएनएम या एमओ को देना.
  • मां के स्वास्थ्य पर नजर रखना और परिवार नियोजन को बढ़ावा देना.

Janani Suraksha Yojana 2022 की पात्रता

लो परफॉर्मिंग स्टेट

  • देश की वे सभी गर्भवती महिलाएं जिनका प्रसव सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों या फिर एक्रेडिएटेड प्राइवेट इंस्टीट्यूशन के माध्यम से होता है
  • इस योजना के अंतर्गत उन सभी अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति की महिलाओं को कवर किया जाएगा, जिन का प्रस्ताव सरकारी स्वास्थ्य केंद्र या फिर प्राइवेट एक्रेडिएटेड इंस्टिट्यूशन के माध्यम से हुआ है.

हाई परफॉर्मिंग स्टेट

  • इस योजना के अंतर्गत गर्भवती महिला गरीब रेखा से जीवन यापन कर रही होनी चाहिए.
  • गर्भवती महिला की आयु 19 वर्ष से अधिक होनी चाहिए.
  • जननी सुरक्षा योजना के अंतर्गत उन सभी अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति की महिलाओं को कवर किया जाएगा, जिन का प्रस्ताव सरकारी स्वास्थ्य केंद्र या फिर प्राइवेट एक्रेडिएटेड एजुकेशन के माध्यम से हुआ हो.

Janani Suraksha Yojana 2022 के दस्तावेज

  • आवेदिका का आधार कार्ड
  • बीपीएल राशन कार्ड
  • पते का सबूत
  • निवास प्रमाण पत्र
  • जननी सुरक्षा कार्ड
  • सरकारी अस्पताल द्वारा जारी डिलीवरी सर्टिफिकेट
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

Janani Suraksha Yojana 2022: आवेदन कैसे करें?

Janani Suraksha Yojana 2022 के अंतर्गत गर्भवती महिलाओं को लाभ प्राप्त करने के लिए सबसे पहले Ministry of Health and Family Welfare, Government of India की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर जननी सुरक्षा योजना की एप्लीकेशन फॉर्म पीडीएफ डाउनलोड करना होगा. आवेदन फॉर्म डाउनलोड करने के बाद फॉर्म में मांगी गई सभी आवश्यक जानकारी भरनी होगी. जैसे महिला का नाम, विलेज नाम,पता आदि सभी जानकारी भरने के बाद अपने सभी दस्तावेजों को आवेदन फॉर्म के साथ अटैच करना होगा और फिर आवेदन फॉर्म को आंगनबाड़ी या फिर महिला स्वास्थ्य केंद्र में जाकर जमा करवाना होगा.

Janani Suraksha Yojana 2022 आवेदन की स्थिति देखने की प्रक्रिया

  • आवेदन की स्थिति देखने के लिए सबसे पहले आपको जननी सुरक्षा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा. इसके बाद आपके सामने होम पेज खुल जाएगा.

Janani Suraksha Yojana 2022

  • होम पेज पर आपको आवेदन की स्थिति देखें के लिंक पर क्लिक करना होगा.
  • इसके बाद आपके सामने अगला पेज खुलकर आएगा जिसमें आपको रेफरेंस नंबर दर्ज करना होगा.
  • रेफरेंस नंबर दर्ज करने के बाद आपको सर्च बटन पर क्लिक करना होगा.
  • सर्च बटन पर क्लिक करने के बाद आपके आवेदन की स्थिति आपकी स्क्रीन पर दिखाई देगी.

Filed in: Sarkari Yojana Tags: , , ,

Leave a Reply

Submit Comment

© Recruitment result 2012-2022. All rights reserved.

Menu
Recruitment Result 2023