National Rural Health Mission 2023: फ्री चिकित्सा सेवाओं को लेकर हुए कई बदलाव, ग्रामीण इलाकों में मिलेगी ऐसी हेल्थ सर्विसेज

National Rural Health Mission 2023: भारत सरकार द्वारा देश के नागरिकों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखकर कई प्रकार की योजनाओं का संचालन किया जा रहा है. एक ऐसी ही योजना का नाम है National Rural Health Mission. इसका प्रारंभ 12 अप्रैल 2005 से देश के ग्रामीण नागरिकों के स्वास्थ्य को सुधारने हेतु किया गया था. यह एक प्रकार का मिशन है जो ऐसे लोगों की मदद करता है जिनकी आर्थिक स्थिति कमजोर है और जो समय पर अपना अच्छा इलाज नहीं करवा पाते हैं.

National Rural Health Mission के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्र के सभी नागरिकों को सभी प्रकार की स्वास्थ्य सुविधाएं बिल्कुल फ्री में मिलती हैं. इस National Rural Health Mission में अब तक कई प्रकार के बदलाव हमें देखने को मिल चुके हैं. आज इस आर्टिकल में हम आपको नेशनल हेल्थ रूरल मिशन के अंतर्गत हुए बदलाव और सेवाओं के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं. इसलिए पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें.

National Rural Health Mission 2023

National Rural Health Mission 2023 क्या है?

देश के नागरिकों को स्वास्थ्य संबंधी सेवाएं प्रदान करने के लिए National Rural Health Mission की शुरुआत की गई थी. भारत सरकार ने ग्रामीण क्षेत्र के नागरिकों को सभी प्रकार की बेहतरीन चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध करवाने के उद्देश्य के साथ साल 2005 में राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन की शुरुआत की थी. अब इसका नाम बदलकर राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन कर दिया गया है. इस मिशन के अंतर्गत नवजात शिशु से लेकर बुजुर्ग नागरिकों तक सभी को बेहतरीन स्वास्थ्य सुविधाएं बिल्कुल फ्री में उपलब्ध करवाई जाती हैं.

Overview of National Rural Health Mission

मिशन का नाम National Rural Health Mission 2023
किसके द्वारा आरम्भ की गई केंद्र सरकार द्वारा
विभाग स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय
वर्ष 2023
आरम्भ की तिथि 12 अप्रैल 2005
आवेदन ऑनलाइन
मिशन का उद्देश्य नागरिकों को स्वस्थ्य सुरक्षा प्रदान करना
लाभार्थी ग्रामीण क्षेत्रों में रह रहे सभी नागरिक
आधिकारिक पोर्टल Click Here

National Rural Health Mission का उद्देश्य

  • National Rural Health Mission का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्र के नागरिकों को बेहतरीन स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करवाना है.
  • ग्रामीण क्षेत्र के नागरिकों को स्वस्थ लाइफ़स्टाइल अपनाने के लिए जागरूक करना.
  • ग्रामीण क्षेत्र के शिशु और मातृ मृत्यु दर में कमी लाना.
  • स्वास्थ्य सुविधाओं के बेहतर संचालन हेतु आशा सहयोगिनी की सहायता प्राप्त करना.
  • किसी भी प्रकार की महामारी और संक्रमित बीमारियों की रोकथाम करने हेतु.
  • महिलाओं और बाल स्वास्थ्य सेवाओं की सुधार करने हेतु.
  • टीवी मलेरिया डेंगू जैसी बीमारियों में कमी लाने हेतु.
  • जनसंख्या नियंत्रण में योगदान देना.
  • ग्रामीण क्षेत्रों में शुद्ध पेयजल और स्वस्थ शौचालय के निर्माण में मदद करना.
  • देश के सभी ग्रामीण क्षेत्र में रह रहे बच्चों का टीकाकरण सुनिश्चित करना.
  • यह सभी प्रकार की उद्देश्य नेशनल रूरल हेल्थ मिशन के तहत रखे गई हैं.

Initiative Under National Rural Health Mission

नेशनल रूरल हेल्थ मिशन के अंतर्गत कई प्रकार की योजनाओं का संचालन किया जा रहा है जिसके बारे में हम आपको नीचे बता रहे हैं.

जननी सुरक्षा योजना

देश में गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वाली गर्भवती महिलाओं को समय पर प्रसूति संबंधी सुविधाएं उपलब्ध करवाना इस योजना के अंतर्गत सुनिश्चित किया जाता है. गर्भवती महिलाओं को फ्री में परिवहन सुविधा समय समय पर दवाई और भोजन आदि से संबंधित सुविधा और प्रसव होने के पश्चात ₹700 की राशि उपलब्ध करवाना इस योजना का हिस्सा है. इस योजना के अंतर्गत महिलाओं के सुरक्षित प्रसव का उद्देश्य रखा गया है.

आशा सहयोगिनी

आशा सहयोगिनी की मदद से देश के छोटे-छोटे ग्रामीण इलाकों तक स्वास्थ्य सुविधाओं को प्रदान करने का कार्य किया जा रहा है. इसके लिए इस मिशन के अंतर्गत अब तक 800000 से भी ज्यादा आशा सहयोगिनी की नियुक्ति की जा चुकी है जिससे पिछड़े वर्ग की महिलाओं और ग्रामीण इलाकों में रह रही महिलाओं को सही प्रकार से देखभाल की सुविधा मिल सके.

Read Also – 

States Selected Under NRHM

नेशनल रूरल हेल्थ मिशन की शुरुआत अभी तक देश के सभी राज्यों में नहीं हुई है. देश के कुल 18 राज्य इस मिशन का संचालन कर रहे हैं जिसकी लिस्ट हमने आपको नीचे दी है.

1हिमाचल प्रदेश 10. असम
2मेघालय 11राजस्थान
3सिक्किम 12मध्य प्रदेश
4त्रिपुरा   13मिजोरम
5उत्तर प्रदेश 14जम्मू-कश्मीर
6नागालैंड 15छत्तीसगढ़
7उड़ीसा 16मिजोरम
8बिहार 17अरुणाचल प्रदेश
9मणिपुर 18उत्तरांचल

एनआरएचएम के अंतर्गत किए जाने वाले कार्य

  • नागरिकों को सभी प्रकार की स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध सुनिश्चित करना.
  • उनकी हेल्थ से संबंधित सभी प्रकार की रिपोर्ट समय-समय पर उनको प्रदान करना.
  • प्राइवेट हॉस्पिटल के साथ पार्टनरशिप करना.
  • प्राइवेट हेल्थ सेक्टर को नेशनल रूरल हेल्थ मिशन से जोड़ना.
  • लोगों को इलाज के खर्चे से बचाने हेतु उन्हें हेल्थ इंश्योरेंस प्रदान करना.
  • सरकार का हेल्थ सेक्टर के अंदर खर्चे में वृद्धि करना.
  • ग्रामीण क्षेत्र में उपलब्ध स्वास्थ्य केंद्रों को बेहतर सुविधा युक्त बनाना.
  • मिशन से संबंधित सभी प्रकार के नियम और मापदंडों को तैयार करना.

एनआरएचएम में क्या-क्या सुधार हुए?

नेशनल रूरल हेल्थ मिशन को संचालित होते हुए काफी समय गुजर गया है. ऐसे में सरकार ने इस मिशन को और भी ज्यादा प्रभावी और सशक्त बनाने के लिए कई बदलाव किए हैं. आइए जानते हैं इनके बारे में…

  • प्राइमरी हेल्थ केयर सेंटर के बेहतरीन संचालन के लिए नई इमारतों का निर्माण करना.
  • स्वास्थ्य के क्षेत्र में जो भी स्वास्थ्य कर्मी महिला जैसे एएनएम काम कर रही है तो उसे लोगों को स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए हजार रुपए की राशि प्रदान करना.
  • ग्रामीण क्षेत्रों में आशा सहयोगिनी का स्वास्थ्य सुविधाओं में कार्य बढ़ाना.
  • प्राइमरी हेल्थ केयर सेंटर्स में 24 घंटे के लिए डॉक्टर की नियुक्ति रखना.
  • गांव और जिला स्तर पर स्वास्थ्य संबंधी कमेटियों का गठन करना.
  • ग्रामीण क्षेत्र के नागरिकों को 24 घंटे स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध करवाना.
  • कम्युनिटी हेल्थ सेंटर की क्षमता को विकसित करना.

Important Link

Official Website  Click  Here
Home Page   Click  Here

Filed in: Sarkari Yojana Tags: , , ,

Leave a Reply

Submit Comment

© Recruitment result 2012-2022. All rights reserved.

Menu
Recruitment Result 2023