PM Swamitva Yojana 2022: ग्रामवासियों को इस योजना से मिलेगा अपनी जमीन का मालिकाना हक़, इस तरीके से करना होगा आवेदन

PM Swamitva Yojana 2022: आज जहां भारत अपने कदम डिजिटल भारत की ओर बढ़ा चुका है और 21वीं सदी की जरूरत को देखते हुए भारत अब डिजिटल भारत बनने पर जोर दे रहा है. जहां आज हम 5G नेटवर्क और इंटरनेट की उपलब्धता की बात करते हैं तो हमारे देश के चारो तरफ लगभग इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध है, ऐसी स्थिति में हर कोई जानकारी हमें इंटरनेट के माध्यम से उपलब्ध हो जाती है.

हमारे यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने भी भारत को डिजिटल भारत बनाने का स्वप्न देखा है और वह इस सपने को पूरा करने के लिए हमेशा प्रयासरत रहते हैं और अनेकों योजनाएं देश में लागू करते हैं जो कि भारत को डिजिटल भारत बनाने के लिए आवश्यक होते हैं.

आज हम हमारे इस आर्टिकल में भी बात करेंगे एक ऐसी ही योजना के बारे में जो इस डिजिटल भारत को एक कदम और आगे बढ़ाती हुई नजर आती है. हम बात कर रहे हैं स्वामित्व योजना (PM Swamitva Yojana 2022) के बारे में जिसके तहत एक ई ग्राम स्वराज पोर्टल शुरू किया गया है, जिस पर गांव के समस्याओं की जानकारी तथा अपनी भूमि से जुड़ी सभी प्रकार की जानकारियां ऑनलाइन देख सकते हैं. इस पोर्टल की शुरूआत पंचायती राज मंत्रालय ने की है. इस आर्टिकल में हम जानेंगे यह योजना क्या है और कैसे इसका लाभ मिलेगा.

क्या है PM Swamitva Yojana 2022 ?

देश की सरकार ने डिजिटल भारत की ओर कदम बढ़ाते हुए सभी भूमि मालिकों को स्वामित्व योजना के तहत संपत्ति कार्ड वितरित करने की घोषणा की है, इस योजना के अंतर्गत 10 हजार संपत्ति धारकों को उनके मोबाइल के जरिए संपत्ति कार्ड दिया जाएगा. गांव के व्यक्तियों या किसानों को पहले बैंकों से किसी भी प्रकार का ऋण लेने के लिए कई सरकारी दफ्तरों के चक्कर लगाने होते थे,जो अब इस योजना के तहत उन लोगों की समस्या कम हो जाएगी

क्योंकि सरकार इस योजना के तहत संपत्ति कार्ड वितरित कर देगी, जिससे किसी भी बैंक से आसानी से ऋण लिया जा सकेगा साथ ही राज्य सरकारें भी फिजिकल संपत्ति कार्ड बांटने का कार्य करेंगे. इस योजना के तहत देश के नागरिकों को अपनी जमीन का स्वामित्व मिल जाएगा या यूं कहा जाए की मालिकाना हक सरकारी तौर पर मिल जाएगा.

PM Swamitva Yojana 2022

PM Swamitva Yojana 2022 – एक नजर

योजना का नामPM Swamitva Yojana 2022
विभागपंचायती राज मंत्रालय
घोषणापीएम मोदी द्वारा 24 अप्रैल 2020
आरंभ तिथि24 अप्रैल 2020
उद्देश्यलोन लेने में सुविधा
वेबसाइटsvamitva.nic.in

PM Swamitva Yojana 2022 का उद्देश्य

आज के इस डिजिटल युग में भी जमीनी विवाद और स्वामित्व जेसी समस्या को निपटाने में सरकार को काफी समस्या आती थी, इस समस्या को मध्य नजर रखते हुए भारत सरकार ने यह योजना शुरू की है. इस योजना के तहत गांव के उन किसानों की जमीनों को ऑनलाइन देखने की सुविधा तथा किसानों की जमीन का सीमांकन और जमीन के मालिकाना हक इत्यादि इस योजना के तहत डिजिटली देखे जा सकते हैं. इस योजना से गांव में होने वाले अधिकतर जमीनी विवाद समाप्त हो सकेगे और ग्रामीण किसानों की जमीन का ऑनलाइन विवरण देखा जा सकेगा और यह किसानों के लिए डिजिटल भारत के तहत एक सुविधाजनक पहल होगी.

PM Swamitva Yojana 2022 की सर्वे प्रक्रिया

सरकार की इस प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के तहत सरकार सभी जगहों की ड्रोन की सहायता से मेपिंग करवाएगी जिससे किसी गांव में रहने वाले लोगों के घरों के क्षेत्रफल दर्ज किया जाएगा, जिसके बाद हर घर को एक अलग आईडी दे दी जाएगी जो एक तरीके से उस घर का पता भी होगा. इस योजना के तहत गांव में बन रहे हर घर की जियो टैगिंग करी जाएगी. इस योजना में जो आईडी दी जाएगी उस आईडी से घर के मालिक का पूरा विवरण देखा जा सकेगा, जिससे कि भविष्य में होने वाले जमीनी विवाद कम होंगी.

इस योजना में ड्रोन के माध्यम से प्रत्येक जमीन के मालिक की जमीन का सीमांकन, ग्रामीण क्षेत्रों में चुना डालकर किया जाता है जिसके पश्चात ड्रोन से उस क्षेत्रफल की तस्वीरें ले ली जाती है जिसके पश्चात जमीन का नक्शा तैयार किया जाता है. इस योजना के तहत ग्राम पंचायतों के सदस्य तथा राजस्व विभाग के अधिकारी पुलिस की टीम के साथ जमीन के मालिक तथा लोगों की आपसी सहमति से उन्हें अपने दावे की जमीन प्रदान करते है.

PM Swamitva Yojana 2022 संपत्ति कार्ड

सरकार द्वारा उपलब्ध कराए गए इस कार्ड के अंतर्गत ग्रामीण लोगों की संपत्ति का डिजिटल ब्यौरा होगा, जिससे वह अपने मालिकाना हक तथा अपनी सीमाओं का निर्धारण कर सकेंगे और गांव में होने वाले संपत्ति विवाद से छुटकारा पा सकेंगे. सरकार के पास गांव की संपत्ति का कोई भी रिकॉर्ड पहले उपलब्ध नहीं होता था और गांव से जुड़ी समस्याओं का निपटारा करने में काफी समस्या आती थी, इससे निपटने के लिए सरकार की स्वामित्व योजना एक अच्छा कदम होगी जिसके तहत गांव के लोगों को एक कागज के माध्यम से उनकी जमीन का मालिकाना हक़ दिया जाएगा.

Read Also

PM Swamitva Yojana 2022 के लाभ

  • प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के तहत गांव में होने वाली जमीनी विवादों को आसानी से सुलझाया जा सकेगा.
  • इस योजना से संपत्ति के नामांकन की प्रक्रिया को सहज और सरल बनाया जा सकेगा.
  • इस योजना के अंतर्गत गांव की भूमि और खेतों का ड्रोन से आसानी से और सटीक मैपिंग किया जा सकेगा.
  • इस योजना के तहत स्वामित्व कार्ड मिलने के बाद ग्राम पंचायतों के अंतर्गत आने वाले किसान भाइयों को भूमि के पर ऋण लेने में सावधानी होगी.
  • इस योजना के तहत अब गांव के ग्रामीण लोग भी शहरों के जैसे अपने घरों और खेतों पर होम लोन इत्यादि जैसी सुविधाएं आसानी से ले सकेंगे.

PM Swamitva Yojana 2022 की आवेदन प्रक्रिया

सरकार की इस प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के जरिए यदि आप आवेदन करना चाहते हैं तो आप नीचे दिए गए तरीके से अपना आवेदन कर सकते हैं.

PM Swamitva Yojana 2022

  • योजना की ऑफिशियल वेबसाइट के होम पेज पर New Registration के विकल्प का चयन करना है.
  • न्यू रजिस्ट्रेशन पर क्लिक करने के पश्चात, आप से पूछी गई जानकारी आपको सावधानीपूर्वक भरनी है और सबमिट कर देना है.
  • सबमिट करने के पश्चात आपका फॉर्म सफलतापूर्वक भर दिया गया है और आपके इस फॉर्म से संबंधित सभी जानकारी आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर भेज दी जाएगी.
  • इस प्रकार से आप PM Swamitva Yojana 2022 के अंतर्गत आवेदन कर पाएंगे.

PM Swamitva Yojana 2022 में ऐसे करें प्रॉपर्टी कार्ड डाउनलोड

सरकार की इस योजना के बारे में सुनने के बाद आपको भी अपना स्वामित्व कार्ड डाउनलोड करने का ख्याल आ रहा होगा, इसीलिए हम आपको यह भी बताते चलें कि आपको यह कार्ड कैसे डाउनलोड करना है.

  • सर्वप्रथम प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के तहत देश के लगभग एक लाख लोगों को S.M.S. के द्वारा एक लिंक भेजी जाएगी.
  • भेजी गई इस लिंक को आपको खोलना है जिसके पश्चात आप अपना स्वामित्व कार्ड डाउनलोड कर सकेंगे.
  • राज्य सरकारे भी अपने अपने राज्य में सभी प्रॉपर्टी धारकों को संपत्ति कार्ड बांटने का कार्य करेंगे.

Filed in: Sarkari Yojana Tags: , , ,

Leave a Reply

Submit Comment

Menu
Recruitment Result 2023