Voluntary Retirement Scheme 2023 क्या है? रिटायर होने के बाद फ्री मिलेगी सैलरी, जाने अन्य लाभ और पात्रता

Voluntary Retirement Scheme 2023: हम सभी अपनी आजीविका चलाने के लिए कोई ना कोई जॉब अथवा नौकरी करते हैं. सरकारी कंपनियां भी कई बार ऐसा महसूस करती हैं कि उनके पास बहुत ज्यादा कर्मचारी हो गए हैं. ऐसे में अपने कर्मचारियों को उनकी इच्छा से रिटायरमेंट लेने का कंपनी मौका देती है. इस योजना का नाम स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना अथवा वॉलंटरी रिटायरमेंट स्कीम है जिसके तहत कोई भी कर्मचारी अपनी इच्छा से रिटायरमेंट ले सकता है. आज हम आपको इस पोस्ट में इस स्कीम का उद्देश्य, लाभ, सुविधाएं आवश्यकता और इसके लिए आवेदन प्रक्रिया के बारे में जानकारी देंगे. अगर आप इस योजना में रुचि रखते हैं तो पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें.

Voluntary Retirement Scheme 2023 क्या है

कंपनियां कर्मचारियों की संख्या घटाने के लिए कर्मचारियों को उनकी रिटायरमेंट की तारीख से पहले ही अपनी इच्छा से कंपनी छोड़ने का अथवा रिटायर होने का मौका देती है. कंपनी का कोई भी कर्मचारी अधिकारी अपनी इच्छा से इस योजना के तहत रिटायरमेंट ले सकता है. इस योजना के तहत सरकारी और निजी क्षेत्र दोनों ही प्रकार की कंपनियां अपने कर्मचारियों को रिटायरमेंट दे सकती है. इस योजना का दूसरा नाम गोल्डन हैंडशेक भी है जिसके माध्यम से कंपनी कर्मचारी की संख्या कम करके अपनी कंपनी की लागत को कम करती हैं. वॉलंटरी रिटायरमेंट स्कीम के बहुत सारे फायदे हैं.

Objectives of Voluntary Retirement Scheme 2023

इस योजना का मुख्य उद्देश्य कंपनी के अंदर कर्मचारी की संख्या को कम करना है जिसकी वजह से जो कंपनियां फाइनेंसियल संकट से जूझ रही है उन्हें कर्मचारियों को भुगतान नहीं करना पड़ता है. ऐसी कंपनियां अपने कर्मचारियों को वॉलंटरी रिटायरमेंट लेने का मौका देती है. इस योजना के तहत वॉलंटरी रिटायरमेंट लेने वाले कर्मचारियों को कई प्रकार के लाभ मिलते हैं जैसे पुनर्वास सुविधाएं, मनी मैनेजमेंट और उनकी इनकम में सुधार के सभी प्रयास किए जाते हैं.

Voluntary Retirement Scheme 2023

Voluntary Retirement Scheme 2023 – Overview

Name of scheme Voluntary retirement scheme
Launched by Government of India
Beneficiary Companies
Objective To reduce the strength of employees in a company

Benefits of Voluntary Retirement Scheme 2023

  • इस योजना के तहत कंपनी में काम कर रहे कर्मचारियों को उनकी इच्छा से रिटायरमेंट होने की पेशकश की जाती है.
  • इस योजना के तहत रिटायरमेंट, रिटायरमेंट की तारीख आने से पहले ही होता है.
  • आप सभी को बता दें कि वॉलंटरी रिटायरमेंट किसी भी कंपनी द्वारा जबरदस्ती रिटायरमेंट करवाना नहीं है, अगर कोई कर्मचारी अपनी नौकरी नहीं छोड़ना चाहता है तो उसे रिटायरमेंट लेने की कोई जरूरत नहीं है, यह पूरी तरीके से कर्मचारी पर ही निर्भर करता है कि वह इस योजना के माध्यम से लाभ लेना चाहता है अथवा नहीं.
  • यह योजना सिर्फ उन्हीं कर्मचारियों पर लागू होती है जिन्होंने अपनी सर्विस के 10 साल पूरे कर लिए हैं अथवा उनकी उम्र 40 वर्ष से अधिक हो चुकी है.
  • कंपनियां अपनी लागत को कम करने और फाइनेंसियल समस्याओं से लड़ने के लिए इस प्रकार का निर्णय लेती है.
  • वॉलंटरी रिटायरमेंट लेने वाले कर्मचारियों पर एक नियम लागू होता है कि वह उसी उद्योग की किसी अन्य कंपनी में आवेदन नहीं कर सकते हैं.
  • वॉलंटरी रिटायरमेंट लेने वाले कर्मचारियों को कंपनी की तरफ से मुआवजा भी मिलता है साथ ही भविष्य निधि और ग्रेच्युटी की राशि भी मिलती है.

Read Also –

Voluntary Retirement Scheme 2023 की जरुरत

  • उत्पाद या प्रौद्योगिकी का अप्रचलन
  • अधिग्रहण और विलय
  • विदेशी सहयोग के साथ संयुक्त उद्यम
  • व्यापार में मंदी
  • कड़ी प्रतिस्पर्धा

Voluntary Retirement Scheme में कितना मुवावजा मिलता है?

  • इस योजना के तहत अगर कोई कर्मचारी वॉलंटरी रिटायरमेंट लेता है तो उसे मुआवजा मिलता है.
  • मुआवजे की गणना कर्मचारी को मिल रहे वेतन के आधार पर की जाती है.
  • कंपनी द्वारा कर्मचारी को प्रत्येक वर्ष जितना भुगतान किया जा रहा है उसके 3 महीने के भुगतान को आधार मानकर उसकी वास्तविक रिटायरमेंट तिथि में जितना समय बाकी है उसे गुणा किया जाता है और मिलने वाली मुआवजे की राशि तय की जाती है.
  • अगर कर्मचारी किसी सार्वजनिक बैंक का है तो इस मामले में उसे हर साल 45 दिन का वेतन मिलता है.

Benefits for Employee in Voluntary Retirement Scheme

  • इस योजना के तहत रिटायरमेंट लेने वाले कर्मचारियों को प्रत्येक 1 साल के लिए 45 दिनों का वेतन रिटायरमेंट लेने पर मिलता है.
  • इसके साथ ही रिटायर्ड कर्मचारी को भविष्य निधि और ग्रेच्युटी राशि भी मिलने वाली है.
  • कर्मचारी को मिलने वाली यह सभी राशियां टैक्स फ्री होती हैं.
  • कई कंपनियां अपने वॉलंटरी रिटायर्ड कर्मचारियों को अन्य प्रकार के पैकेज लाभ भी देती हैं.

Eligibility Criteria for Voluntary Retirement Scheme

  • आवेदन करने वाले व्यक्ति की उम्र कम से कम 40 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए.
  • कर्मचारी को काम करते हुए कंपनी में कम से कम 10 वर्ष या उससे अधिक का समय पूरा हो गया हो.
  • इस योजना का लाभ सिर्फ कंपनी में काम कर रहे कर्मचारी ही उठा सकते हैं.
  • वॉलंटरी रिटायरमेंट लेने वाले सभी कर्मचारियों को प्रतिवर्ष 45 दिन का वेतन मिलेगा.
  • इसके साथ ही भविष्य निधि और ग्रेच्युटी राशि भी मिलने वाली है.

Conclusion

आपको इस योजना के लिए आवेदन नहीं करना होता है, यह आपके और आपके कंपनी के बीच की म्युचुअल अंडरस्टैंडिंग है. अगर आपकी इच्छा है वॉलंटरी रिटायरमेंट लेने की तो आप अपनी कंपनी के अनुसार यह रिटायरमेंट ले सकते हैं. हमने इस योजना से संबंधित ज्यादातर जानकारी आपको दे दी है. अगर फिर भी आप को इसके बारे में अन्य जानकारी चाहिए तो आप कमेंट के माध्यम से हम से पूछ सकते हैं. इसके अलावा आप डिपार्टमेंट ऑफ पब्लिक एंटरप्राइजेज की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट करके वॉलंटरी रिटायरमेंट स्कीम के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.


Filed in: Sarkari Yojana Tags: , , , , ,

Leave a Reply

Submit Comment

© Recruitment result 2012-2022. All rights reserved.

Menu
Recruitment Result 2023