Atal Pension Yojana 2022: हर महीने मिलेगी 5000 रूपये पेंशन, करना होगा यह काम, जाने आवेदन प्रक्रिया

Atal Pension Yojana 2022: हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा 1 जून 2015 को अटल पेंशन योजना को आरंभ किया गया था. इस योजना के माध्यम से 60 वर्ष की आयु पूर्ण हो जाने के बाद पेंशन प्रदान की जाती है. इस योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त करने वाले लाभार्थी को 18 से 40 वर्ष की आयु के बीच निवेश करना होता है.

इस योजना के माध्यम से लाभार्थियों को ₹1000 से लेकर ₹5000 की मासिक पेंशन प्रदान की जाती है. लाभार्थी द्वारा किए गए निवेश एवं उनकी आयु को ध्यान में रखते हुए पेंशन की राशि निर्धारित की जाती है. इसके अलावा इस योजना के माध्यम से असामयिक मृत्यु की दशा में लाभार्थी के परिवार को इस योजना का लाभ प्रदान किया जाता है.

Atal Pension Yojana 2022 क्या है?

इस योजना के तहत आवेदन करने वाले को हर महीने प्रीमियम जमा कराना होगा. उसके बाद आवेदक की 60 वर्ष की आयु पूर्ण हो जाने के बाद सरकार द्वारा मासिक पेंशन के रूप में बुढ़ापे में आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी. इस योजना में आवेदन करने वाले आवेदक की उम्र 18 से 40 वर्ष होनी चाहिए. यदि कोई लाभार्थी इस योजना से जुड़ना चाहता है, तो उन्हें हर महीने ₹210 का प्रीमियम देना होगा और जिनकी आयु 40 वर्ष है, तो उन्हें 297 से लेकर 1454 रूपये तक का प्रीमियम देना होगा.

Atal Pension Yojana 2022 के तहत यूपीआई से पेमेंट कैसे करें?

  • अटल पेंशन योजना के तहत अपना अंशदान यूपीआई के माध्यम से करने के लिए सबसे पहले आपको नेशनल पेंशन स्कीम की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा.
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपको अपना पैन नंबर दर्ज करना होगा.
  • इसके बाद आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी पर एक ओटीपी आएगा, इस ओटीपी को आपको दर्ज करना होगा.
  • इसके बाद आपको एनपीएस टियर 1 या 2 में से किसी एक ऑप्शन का चयन करना होगा.
  • इसके बाद आपको वर्चुअल अकाउंट वीए का चुनाव करना होगा.
  • उसके बाद आपको बैंक एप्लीकेशन भेजा जाएगा और फिर आपको एक्नॉलेजमेंट नंबर प्राप्त होगा.
  • अब आपको आगे यूपीआई पेमेंट के विकल्प का चयन करना होगा.
  • इसके बाद आपको अपना वर्चुअल अकाउंट नंबर और यूपीआई नंबर दर्ज करना होगा. इसके बाद आप यूपीआई का पिन डालकर अपना पेमेंट कर सकते हैं.

Atal Pension Yojana 2022 में बड़ा बदलाव, आयकर दाता को नहीं दिया जाएगा लाभ

अटल पेंशन योजना 2022 में केंद्र सरकार द्वारा असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले नागरिकों के लिए इस योजना में बड़ा बदलाव किया गया है. वित्त मंत्री द्वारा यह नोटिफिकेशन जारी किया गया है, कि अब आयकर दाता इस योजना से नहीं जुड़ पाएंगे. 1 अक्टूबर 2022 से यह नियम लागू हो जाएगा.

इस योजना के नए प्रावधान के अनुसार जो नागरिक कानूनी तौर पर आयकर दाता है, वह इस योजना का लाभ नहीं उठा पाएंगे, यदि कोई नागरिक इस नए कानून के प्रावधान के अनुसार 1 अक्टूबर को या इसके बाद योजना में शामिल हुआ है और नए नियम लागू होने की तिथि या इससे पहले आयकर दाता पाया जाता है, तो उस स्थिति में उसके अकाउंट को तुरंत बंद कर दिया जाएगा. इसके लिए सरकार समय-समय पर इसका रिव्यू भी करेगी.

Atal Pension Yojana 2022

Atal Pension Yojana 2022 – एक नजर

योजना का नाम Atal Pension Yojana 2022
लॉन्च की गयी वर्ष 2015
इनके द्वारा शुरू की गयी केंद्र सरकार द्वारा
लाभार्थी देश के असंगठित क्षेत्रो के लोग
उद्देश्य पेंशन प्रदान करना

Atal Pension Yojana 2022: 65 लाख से अधिक नागरिकों द्वारा ली गई सदस्यता

Atal Pension Yojana 2022 के अंतर्गत 65 लाख से अधिक नागरिकों द्वारा सदस्यता ली गई है, जिससे ग्राहकों की संख्या बढ़कर 3.68 करोड हो गई है. वित्त मंत्री द्वारा इस बात की जानकारी प्रदान की गई है, जिसके कारण प्रबंधनाधीन परिसंपत्ति बढ़कर 20000 करोड हो गई है. इस योजना में कुल ग्राहकों में से 56% पुरुष एवं 44% महिलाएं हैं.

Atal Pension Yojana 2022: निवेश करके पाएं ₹10000 की प्रतिमाह पेंशन

वृद्ध लोगों को पेंशन प्रदान करने के लिए Atal Pension Yojana 2022 की शुरुआत की गई है. इस योजना के माध्यम से ₹1000 से लेकर 5000 रूपये की धनराशि पेंशन के रूप में दी जाती है. यह पेंशन लाभार्थियों द्वारा किए गए निवेश पर प्रदान की जाती है. इस योजना के माध्यम से देश के नागरिक 60 वर्ष की आयु पूर्ण हो जाने के बाद एक निश्चित पेंशन प्राप्त कर सकेंगे. इस योजना के अंतर्गत पेंशन के प्राप्त करने की अधिकतम राशि ₹5000 हैं.

इस योजना के अंतर्गत पति और पत्नी दोनों के द्वारा अलग-अलग निवेश करके ₹10000 तक की राशि प्राप्त की जा सकती है. पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी द्वारा इस बात की जानकारी प्रदान की गई है. इस योजना के अंतर्गत पेंशन प्राप्त करने के लिए पति पत्नी की आयु 18 से 40 वर्ष के बीच होनी चाहिए.

Read Also – 

Atal Pension Yojana 2022: लेनदेन की डिटेल

असंगठित क्षेत्रों के नागरिकों के लिए अटल पेंशन योजना की शुरुआत की गई थी. यह योजना एक रिटायरमेंट पेंशन योजना है. अटल पेंशन योजना के तहत लाभार्थियों को एक प्रीमियम भुगतान करना होता है. इस योजना के अंतर्गत मोबाइल एप्लीकेशन भी आरंभ की गई है. इस एप्लीकेशन के माध्यम से आप इस योजना के लेनदेन की डिटेल प्राप्त कर सकते हैं.

Atal Pension Yojana 2022 का उद्देश्य

Atal Pension Yojana 2022 का मुख्य उद्देश्य असंगठित क्षेत्रों में काम करने वाले लोगों को पेंशन देकर उनके भविष्य को सुरक्षित करना है. यह एक सामाजिक सुरक्षा है, जिसका उद्देश्य योजना में शामिल होने वाले सभी लाभार्थियों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करना है. इस योजना के माध्यम से लोग सशक्त होंगे.

Atal Pension Yojana 2022: निकासी

60 वर्ष की आयु पूर्ण होने पर: अटल पेंशन योजना से 60 वर्ष की आयु पूरी होने के बाद ग्राहक निकासी कर सकता है. ग्राहक को पेंशन निकासी के बाद पेंशन राशी प्रदान की जाएगी.

सब्सक्राइबर की मृत्यु की स्थिति में: इस योजना के तहत यदि किसी सब्सक्राइबर की मृत्यु हो जाती है. तो पेंशन की राशि उसके पति या पत्नी को प्रदान की जाएगी. यदि इन दोनों की मृत्यु हो जाती है तो पेंशन राशि उनके नॉमिनी को प्रदान की जाएगी.

60 वर्ष की आयु से पहले निकासी: इस योजना के अंतर्गत 60 वर्ष की आयु पूरी होने से पहले पेंशन की निकासी करने की अनुमति नहीं है, लेकिन कुछ असाधारण स्थितियों में विभाग द्वारा 60 वर्ष की आयु से पहले निकासी की अनुमति दी गई है जैसे कि लाभार्थी की मृत्यु हो जाती है या फिर किसी टर्मिनल रोक की स्थिति में.

Atal Pension Yojana 2022: अप्लाई

इस योजना में शामिल होने के लिए लाभार्थियों का बैंक अकाउंट होना चाहिए और यह बैंक अकाउंट आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए. जो लोग सरकारी नौकरी करने वाले या आयकर दाता है, वह लोग इस योजना का लाभ नहीं उठा सकते. इस योजना में लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थी भारत देश के किसी भी राष्ट्रीय बैंक में जाकर अटल पेंशन योजना का खाता खुलवा सकते हैं.

Atal Pension Yojana 2022: योजना में किया जाने वाला निवेश

इस योजना के अंतर्गत यदि कोई व्यक्ति ₹7 रोजाना बचाकर महीने का ₹210 का निवेश करता है, तो वह सालाना ₹60000 तक की पेंशन प्राप्त कर सकता है. यह निवेश व्यक्ति को 18 वर्ष की आयु से करना होगा. अटल पेंशन योजना की खास बात यह है, कि इसमें इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन के तहत निवेश करने पर टैक्स छूट का भी लाभ मिलता है. यह योजना राष्ट्रीय पेंशन योजना के जरिए फंड नियामक और विकास प्राधिकरण द्वारा संचालित की जा रही है. आप इस योजना में आवेदन करके इस योजना का लाभ उठा सकते हैं.

Atal Pension Yojana 2022: नामांकन एवं भुगतान

  • सभी पात्र नागरिक खाते में ऑटो डेबिट सुविधा उपलब्ध करवाने के बाद अटल पेंशन योजना में शामिल हो सकता है.
  • निर्धारित तिथि पर अपने बचत खाते में आवश्यक शेष राशि रखने से खाताधारक लेट पेमेंट पेनल्टी से बच सकता हैं.
  • प्रतिमाह मासिक अंशदान भुगतान पहले कंट्रीब्यूशन के भुगतान के आधार पर ही करना होता है.
  • यदि कोई लाभार्थी समय से भुगतान नही कर रहा है, तो उस स्थिति में अकाउंट को बंद कर दिया जायेगा और यदि भारत सरकार द्वारा दिया गया कोई योगदान है तो उसे भी जप्त कर लिया जायेगा.
  • इस योजना में लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थी के पास आधार कार्ड होना आवश्यक है.
  • इस योजना के तहत लाभार्थी 1000 से 5000 के बीच पेंशन के लिए आवेदन कर सकता है. इसके लिए लाभार्थी को समय से अपना कंट्रीब्यूशन जमा करना होगा.
  • इस योजना के अंतर्गत पेंशन राशी को लाभार्थी द्वारा घटाया या बढ़ाया भी जा सकता है. लेकिन पेंशन राशी को केवल अप्रैल के माह में ही घटाया या बढ़ाया जा सकता हैं.
  • इस योजना में शामिल होने के बाद ग्राहक को एक पावती पर्ची प्रदान की जाएगी, जिसमें निश्चित रूप से गारंटी कृत पेंशन राशी, योगदान भुगतान की दे तिथि आदि रिकॉर्ड की जाएगी.

Atal Pension Yojana 2022: कुछ महत्वपूर्ण निर्देश

  • Atal Pension Yojana 2022 के अंतर्गत पेंशन की राशी का 50% हिस्सा या 1000 रूपये जो भी कम हो केंद्र सरकार द्वारा प्रत्येक लाभार्थी को प्रदान किया जायेगा.
  • इस योजना के अंतर्गत लाभ, उन सभी लाभार्थियों को प्रदान किया जाता है, जिन्होंने 1 जून 2015 से 31 मार्च 2016 के बीच इस योजना के अंतर्गत आवेदन किया है और किसी अन्य सोशल सिक्योरिटी स्कीम के लाभार्थी एवं इनकम टैक्स पेयर नहीं है.
  • इस योजना को आधार एक्ट के सेक्शन 7 के अंतर्गत शामिल किया गया है. अब इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आधार नंबर अनिवार्य होगा.
  • इस योजना में लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक के पास बचत खाता होना आवश्यक है.
  • योजना के अंतर्गत आवेदक को नॉमिनी से संबंधित जानकारी जमा करनी होगी.
  • इस योजना का लाभ केवल भारत के मूलनिवासी ही उठा सकते हैं. यदि कोई लाभार्थी इस पेंशन की अवधि के दौरान non-resident हो जाता है, तो उस स्थिति में उसका खाता बंद कर दिया जाएगा और उसके द्वारा जमा की गई राशि को वापस कर दिया जाएगा.
  • इस योजना के अंतर्गत उपभोक्ता द्वारा अप्रैल के माह में पेंशन राशि को घटाया या बढ़ाया भी जा सकता है.
  • अंशदाताओं को 8% प्रतिवर्ष की दर से पेंशन को अपग्रेड करने के लिए अनुदान की अंतर राशि का भुगतान करना होगा.
  • इस योजना के अंतर्गत यदि अंशदान करने वाला व्यक्ति पेंशन की राशि को घटाना चाहता है तो इस स्थिति में अन्नदाता से एकत्र किए गए अंशदान की अतिरिक्त राशि अंशदाता को उत्पन्न रिटर्न के साथ वापस कर दी जाएगी.
  • इस योजना के अंतर्गत त्रुटि के मामले के अलावा अपग्रेडेशन या डॉउनग्रेडेशन के लिए ग्राहक को ₹50 के शुल्क का भुगतान करना होगा, जो कि POP – APYSP एवं सीआरए द्वारा समान रूप से साझा किया जाएगा.

Atal Pension Yojana 2022: मुख्य तथ्य

  • इस योजना को केंद्र सरकार द्वारा मई 2015 में शुरू किया गया था.
  • रिटायरमेंट के बाद आप हर महीने पेंशन प्राप्त कर सकते हैं.
  • असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले कर्मचारियों के लिए यह योजना शुरू की गई है.
  • इस योजना में लाभ प्राप्त करने के लिए आपको 20 वर्ष तक निवेश करना होगा.
  • इस योजना में निवेश करने के लिए आपकी आयु 18 से 40 वर्ष तक होनी चाहिए.
  • इस योजना के माध्यम से 60 वर्ष की आयु पूर्ण होने के बाद आपको पेंशन राशि प्रदान की जाएगी.
  • इस योजना के अंतर्गत लाभार्थी 1000,2000,3000 और ₹5000 की पेंशन प्राप्त कर सकते हैं.
  • पेंशन की राशि आपके द्वारा किए गए प्रतिमाह प्रीमियम भुगतान पर निर्भर करती है.
  • यदि आप की उम्र 20 वर्ष है और आप 2000 की पेंशन प्राप्त करना चाहते हैं, तो आपको प्रतिमाह ₹100 का प्रीमियम देना होगा और यदि आप ₹500 की पेंशन प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको प्रतिमाह ₹248 का प्रीमियम देना होगा.
  • यदि आप की उम्र 35 वर्ष है और आप ₹2000 की पेंशन प्राप्त करना चाहते हैं, तो आपको ₹362 का प्रीमियम देना होगा और यदि आपको ₹5000 की पेंशन प्राप्त करनी है, तो उसके लिए आपको ₹902 का प्रीमियम देना होगा.
  • इस योजना के अंतर्गत आपके निवेश के साथ ही 50% रकम का भुगतान सरकार द्वारा भी किया जाएगा.
  • यदि लाभार्थी की 60 वर्ष की आयु से पहले मृत्यु हो जाती है, तो उसे स्थिति में इस योजना का लाभ उसके परिवार को दिया जाएगा.
  • जो इनकम टैक्स स्लैब से बाहर है, केवल वही नागरिक इस योजना का लाभ उठा सकते हैं.

Atal Pension Yojana 2022: लाभ

  • भारत के लोग ही इस योजना का लाभ उठा सकते हैं.
  • इस योजना के अंतर्गत 60 वर्ष की आयु पूरी होने के बाद केंद्र सरकार द्वारा हजार रुपए से लेकर ₹5000 तक की मासिक पेंशन प्रदान की जाएगी.
  • इस योजना के अंतर्गत सरकार इस पेंशन योजना में पीएफ खाते की तरह अपनी ओर से भी अंशदान देगी.
  • यदि आप की उम्र 18 वर्ष है और आप हर महीने हजार रुपये की पेंशन लेना चाहते हैं तो आपको 42 साल तक हर महीने ₹210 का प्रीमियम जमा करवाना होगा.
  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए 40 वर्ष की उम्र वालों को 297 से लेकर 1454 रुपए तक का प्रीमियम देना होगा.

Atal Pension Yojana 2022: के जरूरी दस्तावेज और पात्रता

  • Atal Pension Yojana 2022 में लाभ प्राप्त करने के लिए भारत का नागरिक होना चाहिए.
  • आवेदक की आयु 18 से 40 वर्ष होनी चाहिए.
  • आवेदक का बैंक खाता उसके आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए.
  • आधार कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • पहचान पत्र
  • स्थाई पता प्रमाण
  • पासपोर्ट साइज फोटो

Atal Pension Yojana 2022 के लिए आवेदन कैसे करें?

  • इस योजना के लिए आवेदन करने के लिए आपको सबसे पहले किसी भी राष्ट्रीय बैंक में अपना बचत खाता खुलवाना होगा.
  • इसके बाद आपको इस योजना के लिए आवेदन फॉर्म में पूछी गई सभी आवश्यक जानकारी जैसे आधार कार्ड, मोबाइल नंबर आदि दर्ज करनी होगी.
  • आवेदन फॉर्म को भरने के बाद इस फॉर्म को बैंक मैनेजर के पास जमा करवाना होगा. इसके बाद आपके आवेदन फॉर्म का सत्यापन कर आपका अटल पेंशन योजना के अंतर्गत बैंक खाता खोल दिया जाएगा.

Filed in: Sarkari Yojana Tags: , , ,

Leave a Reply

Submit Comment

© Recruitment result 2012-2022. All rights reserved.

Menu
Recruitment Result 2023